Bihar News

‘मेडल लाओ नौकरी पाओ’ के तहत उत्कृष्ट खिलाड़ियों को सीएम नितीश ने सौंपा नियुक्ति पत्र

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को ‘मेडल लाओ नौकरी पाओ’ योजना के तहत आयोजित कार्यक्रम में उत्कृष्ट खिलाड़ियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया. इसके तहत मुख्यमंत्री ने चीन के हांगझोऊ में आयोजित 19 वां एशियन गेम्स तथा चतुर्थ एशियन पारा गेम्स, 2023 के हाईजंप प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक विजेता शैलेश कुमार, कॉमनवेल्थ गेम्स में लॉन बॉल खेल में पदक जीतने वाले चंदन कुमार सिंह, चतुर्थ एशियन पारा गेम्स, 2023 के तैराकी में मो. शम्स आलम शेख, साइकिलिंग ट्रैक में जलालुद्दीन अंसारी, फेनसिंग (तलवारबाजी) में आकाश कुमार, कबड्डी में सागर कुमार, एशियन गेम्स के रग्बी खेल में श्वेता शाही सहित कबड्डी, रग्बी, मार्शल आर्ट, एथलेटिक्स, फुटबॉल तथा ड्रैगन बॉल खेल में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 71 खिलाड़ियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया.इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि रेलवे में खिलाड़ियों को नौकरी देने की तर्ज पर वर्ष 2010 से बिहार में भी उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी देना शुरू किया गया, जिसके तहत वर्ष 2010 में 33, वर्ष 2011 में 125, वर्ष 2015 में 82 तथा वर्ष 2020 में 31 को मिलाकर कुल 271 खिलाड़ियों को लिपिक वर्ग की नौकरियां दी गयी थीं। अब राज्य में खेलों के प्रति युवाओं की रूचि बढ़ाने के लिए राज्य सरकार के द्वारा ‘मेडल लाओ नौकरी पाओ’ तर्ज पर बिहार उत्कृष्ट खिलाड़ियों की सीधी नियुक्ति नियमावली 2023 बनायी गयी है. इसके तहत राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता में मेडल पाने वाले खिलाड़ियों को सीधे नौकरी दी जा रही है. इस नये नियम के अनुसार खिलाड़ियों को अच्छा प्रदर्शन करने पर एसडीओ और डीएसपी तक बनने का मौका मिलेगा. इस नियमावली के तहत आज 71 खिलाडियों को नौकरी दी गयी है, जिसमें 2 को पदाधिकारी की नौकरी दी गयी है, जिसमें बाल विकास परियोजना पदाधिकारी एवं प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी शामिल हैं. 69 को पुलिस अवर निरीक्षक, समाज कल्याण विभाग में अधीक्षक एवं डाटा इन्ट्री ऑपरेटर एवं लिपिक की नौकरियां दी गयी हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में खेलों को बढ़ावा दिया जा रहा है. राज्य में खेलों को बढ़ावा देने के लिए कई कदम उठाए गए हैं. अभी तक खेल से संबंधित सभी कार्य कला, संस्कृति एवं युवा विभाग के अधीन किये जाते हैं. खेलों को बढ़ावा देने के लिए राज्य में अलग से ‘खेल से संबंधित विभाग’ का गठन किया जायेगा. अब इसी विभाग द्वारा खेल-कूद से संबंधित कार्यों को किया जायेगा. साथ ही अच्छे खिलाड़ियों को छात्रवृत्ति दी जायेगी, जिससे युवा खिलाड़ी अपना पूरा ध्यान खेल पर दे सकेंगे. कार्यक्रम को उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने भी संबोधित किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button